राष्ट्रीय

देश को नेहरू और कांग्रेस ने बांटा : इंद्रेश कुमार

अवतार
यमुनानगर, 26 मई (हि.स)। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की अखिल भारतीय कार्यकारिणी  सदस्य इंद्रेश कुमार ने कहा  कि देश का बंटवारा नेहरू और कांग्रेस ने किया है। इस बंटवारे के लिए कोई और नहीं, सिर्फ नेहरू और कांग्रेस ही जिम्मेदार हैं। उन्होंने यह बात रविवार को यहां अपने अभिनंदन समारोह में कही। इस मौके पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के अलावा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और संघ के प्रमुख नेता मौजूद रहे।
संघ प्रचारक इंद्रेश कुमार ने कहा कि हमने कभी देश विभाजन की बात नहीं की। हम न ही इसके पक्ष में थे। देश को अगर किसी ने बांटा तो वह हैं नेहरू और कांग्रेस। हमने कभी देश तोड़ने की बात नहीं कही। हमेशा भ्रमित और मिथ्या प्रचार किया गया कि संघ ने कभी भी देश में और समाज में अपना कोई योगदान नहीं दिया। उन्होंने कहा, कांग्रेस की विचारधारा ने देश की जनता का दोहन किया। संघ ने धर्म और संस्कृति प्रचार-प्रसार किया। राष्ट्र की एकता और अखंडता को सर्वोपरि समझा। किसी को भी देश की संस्कृति और संस्कारों को नहीं भूलना चाहिए। 
इंद्रेश कुमार ने कहा, 2014 के बाद देश की जनता खुद यह महसूस कर रही है कि हमने और हमारी सोच के लोगों ने बिना किसी हिंसा और नफरत के सभी को समान रूप से देश का नागरिक माना है। कभी समाज को तोड़ने की बात नहीं की। यही संघ का मूलभूत आधार और संस्कार है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार देश को नई ऊंचाइयां प्रदान कर रही है। भाजपा सरकार का संदेश पूरी दुनिया सुन रही है। लोगों ने 2014 में भाजपा पर भरोसा जताया। पांच साल में हुए बदलाव को जनता ने स्वीकृति देते हुए 2024 तक का यह विश्वास बढ़ा दिया है।उन्होंने कहा कि  निश्चित तौर पर भारत महाशक्ति बनेगा। इसके लिए हम सबको देश निर्माण को प्राथमिकता देनी होगी। 
इंद्रेश कुमार के अभिनंदन समारोह में पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा, जीवन जीने का सबका अपना- अपना नजरिया होता है। संघ स्वयंसेवक होने पर उन्हें गर्व है। मुख्यमंत्री के रूप में उनका काम प्रदेश की जनता के सामने है। वह प्रदेश को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में पीछे नहीं हटेंगे। मुख्यमंत्री ने बूडिया गांव में बीरबल की स्मृति में स्मारक बनवाने की घोषणा की।
इस मौके पर जगाधरी के विधायक कंवरपाल गुर्जर, यमुनानगर के विधायक घनश्याम दास अरोड़ा, रादौर के विधायक श्याम सिंह राणा और सुढौरा के विधायक बलवंत सिंह उपस्थित रहे। युद्ध स्मारक समिति ने समारोह के मुख्यातिथ इंद्रेश कुमार के अलावा मुख्यमंत्री और सभी विधायकों को शाल और स्मृति चिह्न भेंटकर सम्मान किया गया। आखिर में सिद्धार्थ गौरी की बौद्ध सभ्यता पर केंद्रित डाक्यूमेंट्री का प्रदर्शन किया गया। अभिनंदन समारोह का आयोजन इंद्रेश कुमार को विश्व शांति नायक सम्मान मिलने की खुशी में डीएवी कन्या महाविद्यालय में किया गया। इसका आयोजन युद्ध स्मारक समिति ने किया। यह सम्मान थाईलैंड के 'वर्ल्ड अलायंस ऑफ बुद्धिस्ट लीडर' ने प्रदान किया। युद्ध स्मारक समिति के प्रधान दर्शनलाल जैन ने अभिनंदन समारोह में इंद्रेश कुमार की उपस्थिति को गौरवमय पल बताया। हिन्दुस्थान समाचार
...