अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

परमाणु समझौता की कुछ प्रतिबद्धताओं को ईरान ने किया सीमित

15/05/2019

 कृष्ण
लंदन, 15 मई (हि.स.)। ईरान ने अधिकारिक रूप से साल 2015 में हुए परमाणु समझौते के कुछ प्रतिबद्धताओं को अधिकारिक तौर पर सीमित कर दिया है। यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

विदित हो कि पिछले सप्ताह ईरान ने समझौते के पक्षकार चीन, रूस, फ्रांस जर्मनी और ब्रिटेन को अपने निर्णय से अवगत करा दिया था।
दरअसल, इस इस्लामिक देश ने अमेरिका के समझौता से एकतरफा अलग होने के एक साल बाद यह कदम उठाया है।

समाचार एजेंसी आईएसएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, ईरान के इस कदम की पुष्टि देश के परमाणु उर्जा बोर्ड के एक अधिकारी ने भी की है।

समझौते के तहत ईरान तीन सौ किलोग्राम तक निम्न स्तर के संवर्धित यूरेनियम और 130 टन तक भारी जल का उत्पादन कर सकता था और इसकी मात्रा अधिक होने पर वह संग्रहण या बिक्री भी कर सकता था।
अधिकारी ने कहा कि ईरान अब इस तरह की सीमाओं से नहीं बंधा है।

उन्होंने चेतावनी देतेे हुए कहा कि विश्वशक्तियां 60 दिनों के अंदर अमेरिकी प्रतिबंधों से ईरानी अर्थव्यवस्था को संरक्षित करे, अन्यथा वह उच्चस्तर के यूरेनियम और भारी जल का उत्पादन शुरू कर देगा।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top