क्षेत्रीय

Blog single photo

गंगा में पानी छोड़े जाने से हस्तिनापुर क्षेत्र में मंडराया बाढ़ का खतरा

12/08/2020

कुलदीप त्यागी
मेरठ, 12 अगस्त (हि.स.)। हरिद्वार से गंगा नदी में एक लाख 58 हजार क्यूसेक पानी छोड़े जाने से हस्तिनापुर क्षेत्र के खादर के गांवों में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने क्षेत्र का दौरा करके स्थिति का जायजा लिया।

बरसात के दिनों में गंगा नदी में जल स्तर बढ़ने से हस्तिनापुर खादर के गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ जाता है। इस बार भी मंगलवार की देर रात हरिद्वार से एक लाख 58 हजार क्यूसेक पानी गंगा नदी में छोड़ा गया। इससे हस्तिनापुर खादर के गांवों में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। सिंचाई विभाग के सहायक अभियंता पीके जैन ने अधिकारियों के साथ बुधवार को खादर स्थित कई गांवों का निरीक्षण किया। मौके पर बाढ़ की स्थिति से निपटने को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि बाढ़ की आशंका के चलते लोगों को अलर्ट किया जा रहा है। बाढ़ की संभावित स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता तैयारियों की जा रही है। टूटे हुए तटबंधों को पहले ही दुरुस्त करा दिया गया है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top