व्यापार

Blog single photo

जुलाई में कोर सेक्‍टर्स ने भी दिया झटका, 8 कोर इंडस्ट्रीज की ग्रोथ रही 2.1 फीसदी

02/09/2019

प्रजेश शंकर

नई दिल्‍ली, 02 सितंबर (हि.स.)। सरकार को जीडीपी और जीएसटी के बाद कोर सेक्‍टर्स ने भी झटका दिया है। देश की आठ कोर इंडस्‍ट्रीज में भी जुलाई में पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में गिरावट देखने को मिली है। सोमवार को जारी कोर इंडस्‍ट्रीज की ग्रोथ रेट जुलाई में 2.1 फीसदी रही, जबकि जुलाई, 2018 में ये दर 7.3 फीसदी थी। 

आठ कोर सेक्‍टर में कोयला, क्रूड ऑयल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी प्रोडक्ट्स, उर्वरक, सीमेंट, बिजली और इस्पात का देश के औद्योगिक उत्पादन इंडेक्स में 40 फीसदी योगदान है। ये आकंड़ा ऐसे वक्‍त में आया है, जब जीडीपी दर में 18 माह से गिरावट जारी है। ऐसा दौर साल 2006 के बाद पहली बार देखा गया है।

हाल ही में मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में विकास दर घटकर 5 फीसदी रह गई है। ये पिछली तिमाही में 5.8 फीसदी थी, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में यह आंकड़ा 8 फीसदी था। सरकार ने आर्थिक सर्वे में जीडीपी दर 7 फीसदी रहने का अनुमान लगाया था, जबकि आरबीआई 6.9 फीसदी रहने की बात कर रहा था। हालांकि, 8 कोर सेक्टर की ग्रोथ का ये आंकड़ा जून के मुकाबले बेहतर है। जून, 2019 में ये ग्रोथ घटकर 0.2 फीसदी रह गई थी। ये पिछले 50 महीने के सबसे निम्न स्तर पर थी।

हिन्‍दुस्‍थान समाचार


 
Top