क्षेत्रीय

Blog single photo

हिमाचल में भारी बारिश, भूस्खलन से 141 सड़कें बंद

10/08/2020

- आगामी 24 घंटों में भारी से बहुत भारी बारिश का आरेंज अलर्ट

उज्जवल शर्मा
शिमला, 10 अगस्त (हि.स.)। हिमाचल में सोमवार को ऑरेंज अलर्ट के बीच मानसून की व्यापक बारिश हुई। राजधानी शिमला को छोड़कर राज्य के अन्य क्षेत्रों में मेघ जमकर बरसे। इससे आम जनजीवन भी प्रभावित हुआ। बीते 24 घंटों के दौरान बिलासपुर के नैना देवी में सर्वाधिक 161 मिमी बारिश हुई। इसके अलावा गग्गल में 156, पांवटा साहिब में 120, जोगेंद्रनगर में 108, पालमपुर में 72, बैजनाथ में 68, धर्मशाला में 52, कोठी में 51, घुमरूर में 49, नादौन और घुमारवीं में 44 मिमी बारिश दर्ज की गई। 

शिमला में सोमवार को भी मौसम शूष्क बना रहा, जबकि बीती रात यहां हल्की बारिश हुई। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में मैदानी व मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। 

इस बीच भूस्खलन और भारी बारिश के चलते प्रदेश में 141 सड़कें बंद रहीं। मंडी जोन में सर्वाधिक 80 सड़कों पर आवागमन ठप रहा। कांगड़ा जोन में 37, हमीरपुर जोन में 18 और शिमला जोन में छ सड़कें बंद रहीं। सड़कों की बहाली के लिए 222 जेसीबी, टिप्पर और डोजर लगाए गए हैं। मानसूनी बारिश से लोनिवि को अब तक 13450.85 लाख का नुकसान हो चुका है। 

मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में भी प्रदेश में भारी बारिश का आरेंज अलर्ट जारी किया है। 16 अगस्त तक बारिश का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि लाहौल-स्पीति और किन्नौर को छोड़कर अन्य 10 जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। इसे लेकर आरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top