अपराध

Blog single photo

कुल्लू घाटी में चरस के खिलाफ स्ट्राइक, 31 गिरफ्तार

03/11/2019

जसपाल सिंह
कुल्लू, 03 नवम्बर (हि.स.)। मलाणा क्रीम के लिए दुनियाभर में बदनाम कुल्लू घाटी में चरस के खिलाफ पुलिस ने बड़ी स्ट्राइक की है। पुलिस ने ऊंची चोटियों में भांग के पौधों से तैयार की जा रही चरस को बरामद करते हुए 31 लोगों को गिरफ्तार कर नशे के सौदागरों की नींद उड़ा दी है। यह स्ट्राइक पार्वती घाटी के दुर्गम पीणी-जाना में शनिवार रात की गई।स्ट्राइक के लिए पुलिस को करीब छह घंटे कठिन मार्ग पर पैदल चलना पड़ा। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो वीरान जंगल में टेंट लगे हुए थे। जहां से छापेमारी के दौरान दो किलो 913 ग्राम चरस, 100 किलो भांग के बीज बरामद किया गया है। इनमें 12 नेपाली और 19 स्थानीय लोग शामिल हैं। 
पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने बताया कि कुल्लू में चरस, हशीश ऑयल, गांजा इत्यादि का उत्पादन रोकने के लिए पुलिस के 29 ऑफिशियल्स की एक स्पेशल टीम ने उच्च गुणवत्ता एवं उत्पादन वाले चरस के क्षेत्रों का अध्ययन किया और उत्पादन के तरीके भी जाने। इसमें पार्वती घाटी के पीणी और जाना क्षेत्र में इस गतिविधि को सक्रिय पाया। इस स्पेशल टीम में कुल 29 लोग थे जिसमें दो महिलाएं भी थीं।
इंस्पेक्टर सुनील संख्यान के नेतृत्व में पीणी के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में दबिश की योजना बनाई और टीम शनिवार रात एक बजे, दो घंटे की सड़क यात्रा और छह घंटे की पहाड़ी चढ़कर क्षेत्र के उन पहाड़ी दुर्गम स्थानों पर पहुंची, जहां नेपाली मूल के लोग 11 टेंट्स लगाकर चरस की मालिश, हशीश तेल और गांजा की खेप भरने का काम कर रहे थे। टीम की अलग-अलग टुकड़ियों ने इन सभी टेंट्स पर एक साथ छापेमारी कर दो किलो 913 ग्राम चरस, 5000 भांग के पौधे और अन्य उपकरण बरामद किया। इसके अलावा 12 कारतूस जिंदा, 150 से ज्यादा खाली रैपर, जिनमें त्यारशुदा चरस भरी जानी थी। साथ ही मौके से 31 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। 
एसपी के मुताबिक स्थानीय ठेकेदार पीणी निवासी पोशु राम हर दूसरे दिन मालिश की गई चरस को आठ नेपाली मजदूरों से ले जाता था, जिनको यह 500 रुपये प्रतिदिन दिहाड़ी देता था। एक अभियुक्त कुल्लू निवासी सोनू के पास 12 जिंदा कारतूस मिले थे।
आरोपितों में चेतन सिंह, सोनू, कमलपून, मनु, करण, पूर्ण, मेघराज, श्रीराम, रेवत राम, कमलेश कुमार, दीपू, अक्षय कुमार, पुशु राम, मान्नचंद, लालचंद, जगदीश, नवीन, नवराज, मेहर चंद, जो सभी पीनी और उसके आसपास के निवासी हैं। इसके अलावा नेपाल निवासियों में ओबी राम, द्रोण बहादुर, कुमारी बूडा, अठोली माया, बंब बहादुर, सूम बहादुर, रतन बहादुर, तारा देवी, दुर्गा देवी, फर्क बहादुर, खीम बहादुर, चंद्राकली शामिल हैं। 
उन्होंने बताया कि सभी आरोपितों के खिलाफ कुल्लू थाना में एनडीपीएस एक्ट की धारा 8 और 20 के तहत 4 मुकदमें दर्ज किए गए हैं। इनमें एक मुकदमे में जिससे कारतूस मिले तथा आर्म्स एक्ट भी लगाया गया है।पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि यह सभी अलग-अलग टेंटों में पिछले कुछ दिनों से इस इलाके में अवैध रूप से उगाई गई भांग से चरस निकालते थे और उसकी पैकिंग और ढोने का काम करते थे।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top