क्षेत्रीय

Blog single photo

कोरोना के साये में उत्तराखंड विधानसभा सत्र 25 को, थर्मल स्कैनिंग से गुजरने की होगी बाध्यता

24/03/2020

दधिबल यादव
देहरादून, 24 मार्च (हि.स.)। चतुर्थ विधानसभा के प्रथम सत्र का दूसरा चरण बुधवार से देहरादून में शुरू होने जा रहा है। कोरोना वायरस (कोविड-19) के खौफ का असर बजट सत्र पर भी साफ़ दिखाई दे रहा है। नतीजतन, दूसरा चरण भराड़ीसैंण की बजाय अब देहरादून में आयोजित कराने का फैसला किया गया है और अब यह सिर्फ एक दिन ही चलेगा। सत्र की कार्यवाही को लेकर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल की अध्यक्षता में विधानसभा परिसर में कार्य मंत्रणा की मंगलवार को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया।

कार्य मंत्रणा की बैठक के दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण एवं लॉक डाउन की स्थिति में कार्य मंत्रणा समिति द्वारा एक दिन का ही सत्र चलाने का निर्णय लिया गया। कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में तय किया गया कि 25 मार्च को सत्र की कार्यवाही के दौरान केवल विनियोग विधेयक पास किया जाएगा। उपवेशन के दौरान प्रश्नकाल के साथ-साथ नियमों के अंतर्गत सभी प्रकार की सूचनाओं को नहीं लिया जाएगा। समिति की बैठक के दौरान विनियोग विधेयक पास करने के अलावा अन्य सभी विधायी कार्य निषेध किए गए हैं। 

उल्लेखनीय है कि बजट सत्र का पहला चरण 3 से 7 मार्च तक ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के भराड़ीसैंण में आयोजित किया गया था। इसका दूसरा चरण भी इस महीने 25 से 27 मार्च तक वहीं आयोजित किया जाना था लेकिन कोविड 19 के बढ़ते खतरे और लॉकडाउन की वजह से इसे सिर्फ एक दिन के लिए सीमित करते हुए देहरादून में ही आयोजित करने का फैसला किया गया। 

आज यहां कार्य मंत्रणा की बैठक में कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए विधानसभा में राज्यपाल दीर्घा और दर्शक दीर्घा को बैन किया गया। साथ ही विभागों के अधिकारियों को सीमित किए जाने की बात कही गई। बैठक में तय किया गया कि सूचना विभाग द्वारा सत्र की कार्यवाही की जानकारी मीडिया को उपलब्ध करवाई जाएगी।

इस अवसर पर कार्य मंत्रणा समिति के सभी सदस्यों द्वारा विधानसभा अध्यक्ष के तौर पर 3 साल का कार्यकाल पूर्ण होने पर प्रेमचंद अग्रवाल को बधाई भी दी गई। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं कार्य मंत्रणा समिति के सभी सदस्यों द्वारा नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दी गईं। साथ ही विधानसभा अध्यक्ष द्वारा केदारनाथ का प्रतीक चिन्ह भेंट कर उनके स्वस्थ जीवन की कामना की गई।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक, विधायक खजान दास, प्रीतम सिंह, विधानसभा सचिव जगदीश चंद, विधायी सचिव प्रेम सिंह सहित अन्य अधिकारीगण भी मौजूद थे।

एजवाइजरी जारी
इससे पहले कोरोना वायरस (कोविड 19) के संक्रमण की रोकथाम हेतु विधानसभा अध्यक्ष के निर्देशानुसार सभी सदस्यों को एक एडवाइजरी जारी की गई है। इस एडवाइजरी का अनुपालन किया जाना सभी के लिए आवश्यक है। विधानसभा परिसर के प्रवेश द्वार पर सदस्यों, आगंतुकों, अधिकारियों एवं कर्मियों को सैनिटाइज कर मास्क उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही मेडिकल टीम द्वारा सभी की थर्मल स्कैनिंग जांच करवाई जाएगी। विधानसभा अध्यक्ष ने अवगत कराया कि जारी एडवाइजरी 25 मार्च के एजेंडा के साथ संलग्न कर सदस्यों को उपलब्ध करवाई जाएगी।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top