ट्रेंडिंग

Blog single photo

पीएमसी बैंक संबंधी कानून में संशोधन विधेयक शीत सत्र में लाया जाएगा : निर्मला सीतारमण

10/10/2019

-पीएमसी बैंक के खाताधारकों से मिलीं निर्मला सीतारमण

राजबहादुर यादव
मुंबई, 10 अक्टूबर (हि.स.)। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि को-ऑपरेटिव बैंक कानून में संशोधन हेतु विधेयक शीत सत्र में लाया जाएगा। उन्होंने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक के खाताधारकों को उनकी जमा रकम निकाले जाने का आदेश देने का भी आश्वासन दिया है।
मुंबई में भाजपा कार्यालय के बाहर गुरुवार को आंदोलन कर रहे पीएमसी बैंक (पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक) के खाताधारकों से वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने मुलाकात की। इसके बाद प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि पीएमसी बैंक भारत सरकार के वित्त विभाग से सीधे संबंधित नहीं है। इसका कामकाज रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की देखरेख में होता है। इस मामले पर चल रही कार्रवाई को रिजर्व बैंक मॉनिटर कर रहा है। 
वित्तमंत्री ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने वित्त विभाग के सचिव को सभी आवश्यक जानकारी इकट्ठा करने के निर्देश दिए हैं। इस विषय पर वह अधिकारियों से भी चर्चा करने वाली हैं और जरूरी हुआ तो संसद के शीत सत्र में को-ऑपरेटिव बैंक कानून में बदलाव के लिए संशोधन विधेयक लाएंगी। निर्मला सीतारमण ने कहा कि पीएमसी बैंक में जमा रकम खाताधारक निकाल सकें, इसके लिए वह गुरुवार शाम को रिजर्व बैंक के गर्वनर से बात करने वाली हैं और उन्हें इस संबंध में निर्देशित भी करेंगी।
निर्मला सीतारमण ने कहा कि मुंबई देश की आर्थिक हृदयस्थली है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पांच वर्ष की सरकार के दौरान मुंबई पूरी तरह शांत रही। इससे यहां से देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में महत्वपूर्ण कार्य हो सके। वित्तमंत्री ने मुख्यमंत्री के कार्यों की सराहना करते हुए जनता से अपील की कि वे एक बार फिर से देवेंद्र फडणवीस की सरकार बनाने के लिए मतदान करें। 
उल्लेखनीय है कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के आने की खबर पीएमसी बैंक के खाता धारकों को पहले ही लग गई थी। इसलिए पीएमसी बैंक के खाताधारकों ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन करना शुरू कर दिया था। निर्मला सीतारमण ने यहां पहुंचने पर खाताधारकों से मुलाकात की और उन्हें इस मामले में आवश्यक कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया, जिससे खाताधारकों ने अपना प्रदर्शन स्थगित कर दिया।

हिन्दुुस्थान समाचार


 
Top