व्यापार

Blog single photo

रेपो रेट घटने के बाद बैंकों ने दी ग्राहकों को राहत, ब्याज दरों में 0.30 फीसदी की कटौती

10/08/2019

प्रजेश शंकर
नई दिल्ली, 10 अगस्त (हि.स.)। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के रेपो रेट में कटौती के बाद देश के विभिन्न बैंकों ने ब्याज दरों में कटौती का लाभ ग्राहकों को देना शुरू कर दिया है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया(एसबीआई) के बाद बैंक ऑफ इंडिया, सिंडिकेट बैंक, आंध्र बैंक, कैनरा बैंक और इंडियन ओवरसीज बैंक ने 0.10 से लेकर 0.30  फीसदी तक लोन पर ब्याज दर यानी मार्जिनल कॉस्ट ऑफ बेस्ट लैंडिंग रेट्स(एमसीएलआर) की कटौती करने घोषणा की है।
  
सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक आंध्र बैंक, सिंडिकेट बैंक और बैंक ऑफ इंडिया ने कर्ज की मानक ब्याज दरों में 0.25 फीसदी की कटौती की। वहीं, केनरा बैंक ने मानक ब्याज दर 0.10 फीसदी घटाने की घोषणा की। इसी तरह इलाहाबाद बैंक ने मानक ब्याज दर 0.15 से 0.20 फीसदी कम करने और इंडियन ओवरसीज बैंक तथा यूनियन बैंक ने 0.15 फीसदी घटाने की घोषणा की। इनके अलावा आईडीबीआई और बैंक ऑफ महारष्ट्र ने भी मानक ब्याज दरों में पहले ही कटौती कर चुका है।

उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने इसी हफ्ते सात अगस्त को नीतिगत दर यानी रेपो रेट में 0.35 फीसदी की कटौती की है। यह लगातार चार द्वैमासिक मौद्रिक नीति समिति की समीक्षा बैठक में रेपो रेट में की गई कटौती है। रेपो रेट 2009 के बाद निचले स्तर 5.40 फीसदी पर है। इससे पहले एसबीआई और बैंक ऑफ बड़ौदा भी ब्याज दर में कटौती कर चुका है।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top