चुनावी विशेष

Blog single photo

दिल्ली में दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों का कोई विकास नहीं हुआ : मायावती

03/02/2020

दिल्ली में दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों का कोई विकास नहीं हुआ : मायावती 

नई दिल्ली, 03 फरवरी (हि.स.) । दिल्ली विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती भी मैदान में उतर गयी हैं। मायावती ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में सोमवार को अपनी पहली चुनावी जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में दलित, पिछड़े वर्ग के लोगों, गरीबों, मजदूरों और छोटे व्यापारियों का कोई खास विकास नहीं हुआ है। एसे में दिल्ली की केजरीवाल सरकार को अब सत्ता से बाहर करना होगा।  
बसपा प्रमुख ने कहा कि मैं इस मामले में खासकर दलितों, आदिवासियों एवं अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों से यह कहना चाहूंगी कि इन्हें डॉ. भीमराव अम्बेडकर के अथक प्रयासों से संविधान के तहत यहां दिल्ली में भी सरकारी नौकरियों में जो भी आरक्षण की सुविधाएं मिली है, उसे शुरू से ही इन वर्गों के लोगों के प्रति हीन एवं जातिवादी मानसिकता रखने वाली पार्टियां इसे प्रभावहीन बनाने एवं इसे खत्म करने में लगी हैं। 
मायावती ने कहा कि आजादी के बाद से यहां पहले सबसे ज्यादा लंबे समय तक राज करने वाली कांग्रेस और वर्तमान में भाजपा की केंद्र एवं अधिकतर राज्यों में इनकी सरकारों ने इन वर्गों के आरक्षण का कोटा अभी तक पूरा नहीं किया है। यही स्थित दिल्ली में भी है। 
देश की आर्थिक स्थिति पर मायावती ने केंद्र सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि गलत आर्थिक नीतियों की वजह से देश के हालात खराब हैं।उल्लेखनीय है कि बसपा दिल्ली विधानसभा चुनाव में 70 में से 68 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं।  
हिन्दुस्थान समाचार/ वीरेन्द्र 


 
Top