अंतरराष्ट्रीय

Blog single photo

कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने पर पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने बुलाया संसद का संयुक्त सत्र

05/08/2019

कृष्ण कुमार
इस्लामाबाद, 05 अगस्त (हि.स.)। भारत में कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने के बाद पाकिस्तान के राष्ट्रपति डा. आरिफ अल्वी ने मंगलवार को संसद का संयुक्त सत्र बुलाया है।
समाचार चैनल जियो टीवी के मुताबिक, संसद की यह बैठक सुबह 11 बजे शुरू होगी जिसमें जम्मू एवं कश्मीर में तनाव और नियंत्रण रेखा बनी तनाव की स्थिति की समीक्षा की जाएगी।
विदित हो कि सोमवार को गृह मंत्री अमित शाह ने संविधान के अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के लिए राज्यसभा में एक प्रस्ताव लाया जिसके तहत जम्मू एवं कश्मीर के विशेष विशेष दर्जे को खत्म कर दिया गया। इसके साथ ही एक विधेयक पेश किया गया जिसमें जम्मू एवं कश्मीर को दो संघीय क्षेत्रों में बांटने का प्रावधान है।
उल्लेखनीय है कि संविधान के अनुच्छेद 370 जम्मू एवं कश्मीर को विशेष स्थिति प्रदान करता है और भारतीय संसद की शक्ति को सीमित करता है। भारतीय संसद सिर्फ दूर संचार, रक्षा और विदेश मामले में कानून बना सकती है। अन्य कानून कश्मीर में तब लागू होते हैं जब जम्मू एवं कश्मीर विधानसभा उसे पारित करती है।
पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने अनुच्छेद 370 की समाप्ति के बाद जम्मू एवं कश्मीर में बड़े पैमाने पर नरसंहार और जातीय खत्मे की आशंका जताई है और संयुक्त राष्ट्र, इस्लामिक सहयोग संगठन और मानवाधिकार आयोग से इस मुद्दे पर चुप नहीं रहने की अपील की है।
पाकिस्तान की मुख्य विपक्षी पार्टी पीएमएल – एन के नेता शहबाज शरीफ ने इसे अस्वीकार्य बताते हुए पाकिस्तानी नेतृत्व से संयुक्त राष्ट्र की आपात बैठक बुलाने की मांग करने को कहा है। साथ ही उन्होंने मित्र देश चीन, तुर्की, सउदी अरब और रूस से इस मुद्दे पर परामर्श करने को कहा है। पीपीपी के सह अध्यक्ष बिलवाल भुट्टो ने भारत के इस कदम की निंदा की है और कहा है कि कश्मीर में भारतीय सेना लगातार कश्मीरियो का उत्पीड़न कर रही है।
 हिन्दुस्थान समाचार


 
Top