अमित मित्रा, पूर्णेन्दु को मिला विधान परिषद में भेजने का आश्वासन

ओम प्रकाश

कोलकाता, 05 मार्च (हि.स.)। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए ममता बनर्जी ने 294 में से 291 पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। इस बार उन्होंने कई वरिष्ठ मंत्रियों के टिकट काट दिये हैं। उन्होंने इस बार जीएसटी काउंसिल के अध्यक्ष और राज्य के वित्त व उद्योग मंत्री अमित मित्रा को भी उम्मीदवारों की सूची से बाहर कर दिया है। इसके लिए ममता ने सफाई दी है कि 80 साल से अधिक उम्र के उम्मीदवारों को इस बार टिकट नहीं दिया गया है। उम्मीदवारो की सूची में मंत्री पूर्णेन्दु बसु का भी नाम नही है। जोड़ासांको से विधायक स्मिता बक्शी का भी टिकट काट कर उनकी जगह एक मशहूर हिंदी दैनिक अखबार के मालिक विवेक गुप्ता को उम्मीदवार बनाया गया है।

उम्मीदवारों की सूची की घोषणा के दौरान ममता बनर्जी ने कहा कि अन्य राज्यों की तरह पश्चिम बंगाल में भी संवैधानिक नियमों के मुताबिक अब विधान परिषद का गठन किया जायेगा, जिसमें राज्य के उन मंत्रियों को शामिल किया जाएगा, जिनका टिकट काटा गया है। तृणमूल के वरिष्ठ विधायक जटटू लाहिरी का भी टिकट कट गया है। तृणमूल कांग्रेस के 50 से अधिक विधायकों काे इस बार टिकट नहीं दिया है। भाजपा नेता शोभन चटर्जी की पत्नी रत्ना चटर्जी को भी तृणमूल ने टिकट दिया है। हिन्दुस्थान समाचार
You Can Share It :