अपराध

Blog single photo

डाक विभाग की अभिकर्ता 70 लाख लेकर फरार , मुकदमा दर्ज

09/10/2019

कृष्ण प्रभाकर
कासगंज, 09 अक्टूबर (हि.स.)। तीर्थनगरी सोरों में डाक विभाग की अभिकर्ता ने खाताधारकों से लाखों रुपये की धोखाधड़ी करके अपने परिजनों समेत फरार हो गई है। 3 दिन से उसके घर व दुकानों में ताले पड़े हुए हैं। पीड़ित खाताधारक बुधवार को जिलाधिकारी से मिले और कोतवाली सोरों में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। 
तीर्थनगरी शूकरक्षेत्र सोरों में मोहल्ला चौदहपोर निवासी राकेश कुमार अग्रवाल की पत्नी मृदुला अग्रवाल के नाम डाकघर में एजेंसी पंजीकृत है। वह अपनी आईडी एमआईजी 0030617 से लगभग 400 खाताधारकों के खाते संचालित कर रही थी। एजेंसी का संचालन उसका पुत्र आशीष अग्रवाल किया करता था। मृदुला इन खाताधारकों से हर माह किश्त जमा करती थी। इस प्रक्रिया में सभी खाताधारकों की पासबुक में प्रतिमाह एंट्री भी की जाती थी। खाताधारकों का कहना है कि बीते 3 दिनों से मृदुला अग्रवाल, उसका पति राकेश अग्रवाल एवं बेटा आशीष अग्रवाल गायब है। उसके आवास पर ताला पड़ा हुआ है। साथ ही मेन बाजार में द्वारकाधीश मंदिर के निकट स्थित कपड़े की दोनों दुकानों पर भी ताले पड़े हुए हैं। आरोपित खाताधारकों के लगभग 60 से 70 लाख रुपये लेकर फरार हो चुके हैं। इसके अलावा आशीष प्रतिमाह लाटरी डालने का भी काम करता था। लोगों का आरोप है कि इसमें भी उसने लाखों रुपये का गोलमाल किया है। 
बुधवार की सुबह खाताधारकों मदनमोहन दीक्षित, श्याम वार्ष्णेय, श्रीकृष्ण भारद्वाज नित्यानंद उपाध्याय, विकास तिवारी, शिवम माहेश्वरी, प्रशांत कुमार, विकास निर्भय, अंकित गुप्ता, कन्हैयालाल भारद्वाज, वरुण, संदीप वार्ष्णेय डाकघर के पोस्टमास्टर सुभाष द्विवेदी से मिले लेकिन उन्होंने किसी तरह का संतोषजनक जवाब नहीं दिया। फलस्वरूप सभी खाताधारक एकत्रित होकर जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। जिलाधिकारी सीपी सिंह को खाताधारकों ने समूचे घटनाक्रम की जानकारी दी जिस पर उन्होंने कोतवाली प्रभारी को मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए। प्रभारी निरीक्षक रिपुदमन सिंह ने बताया कि घोटाला लंबी रकम का है। इस मामले में मुकदमा दर्ज करके आरोपितों की तलाश प्रारंभ कर दी गई है। 
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top