युगवार्ता

Blog single photo

दिल्ली की सब्जियों में विषाक्त धातु

12/08/2019

दिल्ली की सब्जियों में विषाक्त धातु

युगवार्ता डेस्क

प्रदूषण का दुष्प्रभाव अब जल, थल और नभ हर जगह दिखाई देने लगा है। इसकी एक बार फिर पुष्टि हुई है राष्ट्रीय पर्यावरण इंजीनियरिंग अनुसंधान संस्थान के एक अध्ययन से। इसके मुताबिक यमुना के मैदान या यमुना के बाढ़ वाले क्षेत्रों में पैदा की जाने वाली सब्जियों में सीसा की मात्रा तय मानक से अधिक मिला है। यानी इन सब्जियों के खाने से कैंसर होने की संभावन बढ़ जाती है। अध्ययन के लिए फूलगोभी, पत्तागोभी, बैंगन, मूली, धनिया, पालक और मेथी को नमूने के तौर पर पूर्वी दिल्ली के तीन स्थानों से एकत्र किए गए। हरी धनिया में सीसे की मात्रा अधिक पायी गयी। वहीं विक्रेताओं से एकत्र की गई सभी सब्जियों में केवल पत्तागोभी को छोड़कर बाकी में सीसे की मात्रा तय मानक से अधिक मिली। पालक में विषाक्त धातुएं अधिक मिली हैं। सीसा का स्रोत आॅटोमोबाइल, बैटरी, पेंट, पॉलिथीन, कीटनाशक और सीसा प्रसंस्करण इकाइयां हैं। हालंकि कई अन्य धातुएं जैसे कैडमियम, मरकरी और निकल सब्जियों में तय मानकों से कम पाई गई। इस शोध के मद्देनजर जरूरी है कि यमुना में गिरने वाले नालों को शोधन किया जाए। जिससे यमुना नदी का पानी शुद्ध हो और आसपास की सब्जियां भी।


 
Top