अपराध

Blog single photo

नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला गिरफ्तार

11/07/2019

ओम प्रकाश
कोलकाता, 11 जुलाई (हि.स.)। महानगर कोलकाता के अहमर्स्ट स्ट्रीट थाने की पुलिस ने नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले स्नातकोत्तर के एक छात्र को गिरफ्तार किया है। उसका नाम जमीरुल हुसैन है। वह दक्षिण 24 परगना के गोसाबा का रहने वाला है। गुरुवार सुबह पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। उसी के एक सहपाठी ने उसके खिलाफ नौकरी के नाम ठगी की शिकायत दर्ज कराई थी, जिस पर जांच के बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने हुसैन को धर दबोचा है। वह फिलहाल कलकत्ता विश्वविद्यालय के हॉस्टल में रहता है और कलकत्ता विश्वविद्यालय से ही इस्लामिक इतिहास में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रहा है। उसके खिलाफ अब्दुस सलाम नाम के उसके एक अन्य सहपाठी ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी।
अब्दुस सलाम भी उसी के साथ विश्वविद्यालय के हॉस्टल में रहता है। पुलिस को दी शिकायत में सलाम ने बताया कि जमीरुल ने प्राइमरी स्कूल में शिक्षक के तौर पर नौकरी लगाने के लिए उससे आठ लाख रुपये मांगे थे। उसकी बातों पर भरोसा कर सलाम ने पहले ढाई लाख रुपये दे दिए थे और बाकी रुपये बाद में देने की बात कही थी। लेकिन रुपये लेने के बाद जमीरुल धीरे-धीरे उससे बातचीत करना बंद कर चुका था और जब भी नौकरी की बात होती थी, उसे टाल जाता था। लंबा समय बीत जाने के बाद अब्दुस सलाम को संदेह हुआ, जिसके बाद अहमर्स्ट स्ट्रीट थाने में जाकर इसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी।
जांच में जुटी पुलिस ने आरोपों को सही पाया, जिसके बाद गुरुवार को जमीरुल को धर दबोचा। प्राथमिक पूछताछ में उसने बताया कि जो रुपये उसने नौकरी दिलाने के नाम पर लिए थे, वह किसी और को दे चुका है। पुलिस को संदेह है कि जमीरुल नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले किसी बड़े गिरोह के साथ जुड़ा हुआ है। संभवतः राज्य और केंद्र सरकार की नौकरियों के साथ-साथ अन्य संस्थानों में भी नौकरी दिलाने के नाम पर लंबे समय से लोगों को ठगता था। उससे पूछताछ कर उसके पूरे गिरोह के बारे में पता लगाने की कोशिश तेज कर दी गई है।

हिन्दुस्थान समाचार 


 
Top