सरोकार

Blog single photo

जरूरतमंदों को स्वयं की एंबुलेंस से पहुंचाते हैं शिवा प्रधान

04/07/2020



धमतरी, 4 जुलाई ( हि. स.)शहर का एक युवा सरकारी एंबुलेंस की तरह स्वयं की एंबुलेंस गाड़ी से मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाता है। उसके सेवाभावी कार्य की सभी सराहना करते हैं। मुख्यत: मोटर मैकेनिक का कार्य करने वाले शिवा प्रधान की पहचान आज लोगों के बीच सेवाभावी युवक की हो गई है,जो जरूरत के समय लोगों के काम आता है।


उसने बताया कि बीमार लोगों को अस्पताल तक पहुंचाने एंबुलेंस समय पर नहीं पहुंचता था। परिजन काफी परेशान होते थे। कई लोगों की जानें भी जाती थी, इसे देखकर ठाना बड़ा होकर एंबुलेंस खरीदा। बीमार जरूरतमंद परिजनों को निशुल्क सेवा उपलब्ध कराना ही एक लक्ष्य है। 10वीं तक पढ़ाई करने के बाद अपने दोस्त से एंबुलेंस मांगकर सेवा शुरू की। जैन समाज के खराब पड़े एंबुलेंस का मरम्मत कराकर एंबुलेंस दौड़ाया। आज स्वयं की राशि लोगों के सहयोग से तीन एंबुलेंस खरीदकर 24 घंटे क्षेत्र में जरूरतमंदों को एंबुलेंस की सेवा दे रहे हैं।

अपनी इस सेवा के लिए आज शिवा प्रधान की पहचान जिले में अलग से है। हर वर्ग आज शिवा प्रधान के नाम से वाकिफ है। कहीं भी सड़क दुर्घटना हो जाए, तो लोग 108 संजीवनी एंबुलेंस की तरह ही शिवा प्रधान को फोन करके जानकारी देते हैं। खबर मिलते ही वह तत्काल घटनास्थल पहुंच जाते हैं। पुलिस भी अज्ञात शव, सड़क दुर्घटना में मृत, जहर सेवन फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाले लोगों के शव को लाने शिवा प्रधान से संपर्क करती है। इतना ही नहीं रक्त की कमी से जूझ रहे जरूरतमंद मरीजों के लिए रक्तदान एंबुलेंस सेवा संस्था धमतरी चला रहे हैं, जिसमें सैकड़ों रक्तदाता उनसे जुड़े हुए हैं। कोई भी ग्रुप का रक्तदान जरूरतमंदों को तत्काल मिल जाता है। वह स्वयं 27 बार रक्तदान कर चुके हैं।

शिवा प्रधान मोटर मैकेनिक है। रूद्री रोड में उनका स्वयं का गैरेज है, जहां कुछ युवकों को रोजगार भी देते हैं। मोटर मैकेनिक बनने के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री कौशल योजना से प्रशिक्षण लिया। प्रदेश में बेहतर स्थान भी बनाया, इसके लिए मुख्यमंत्री के हाथों पुरस्कृत भी हो चुके हैं। एंबुलेंस चलाने का उन्हें बचपन से शौक भी था। पिता मन्नूलाल प्रधान शिक्षक थे। शिवा की तीन लड़कियां है।




हिन्दुस्थान समाचार / रोशन




 
Top