क्षेत्रीय

Blog single photo

उत्तर प्रदेश का होटलिज्म 19 देशों के प्रतिनिधियों को बेचने में जुटा यूपीएचआरए

10/08/2019

उत्तर प्रदेश का होटलिज्म 19 देशों के प्रतिनिधियों को बेचने में जुटा यूपीएचआरए 

शरद वाजपेई 
लखनऊ, 10 अगस्त (हि.स.)। होटल अवध क्लार्क में यूपी ट्रैवेल मार्ट का उद्घाटन होने के बाद 19 देशों से आये प्रतिनिधियों को प्रदेश का होटलिज्म बेचने के लिए उप्र. होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन (यूपीएचआरए) जुट गया है। एसोसिएशन से जुड़े लगभग 60 होटलों व रेस्टोरेंटों के प्रतिनिधि अपने काउण्टरों पर प्रदेश की खुबसूरती व धार्मिक पौराणिक स्थलों के बारे में दूसरे देशों से आये प्रतिनिधियों को समझा रहे हैं।  

परिवर्तन चौक पर होटल क्लार्क के प्रथम तल पर लगे यूपी ट्रैवेल मार्ट में यूपीएचआरए के काउण्टर प्रतिनिधि पंकज भटनागर ने 'हिन्दुस्थान समाचार' को बताया कि उत्तर प्रदेश के पर्यटन को बढ़ाने के लिए सबसे पहले यहां के धार्मिक व पौराणिक स्थलों के बारे में खरीददारों को बताना जरूरी है। प्रदेश सरकार भी अपने धार्मिक पौराणिक स्थलों का प्रचार प्रसार कर रही है। इससे यूपीएचआरए को नई गति मिली है। उन्होंने बताया कि यूपी ट्रैवेल मार्ट में 19 देशों के प्रतिनिधि आए हैं। इन प्रतिनिधियों के रुकने और मार्ट में भाग लेने की समस्त व्यवस्थाएं फिक्की और यूपीएचआरए कर रहा है। हमारी कोशिश है कि दूसरे देशों से आये प्रतिनिधि अपने साथ कुछ लेकर के जाएं। इसके लिए हमारे काउण्टरों पर बैठे प्रतिनिधि व अधिकारी अपने स्तर पर उत्तर प्रदेश के होटल व रेस्टोरेंट्स के रेट, वहां मिलने वाली सुविधाओं के बारे में खरीददारों या उनके प्रतिनिधियों को जानकारियां दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि दो दिनों तक चलने वाले मार्ट के पहले दिन हमें अच्छा रिस्पांस मिला है। ये हमारे लिए अच्छी खबर है। हमारे अध्यक्ष सुरेन्द्र जायसवाल इसकी देखरेख कर रहे हैं। फिक्की के भी कई अधिकारी यहां मौजूद हैं जो बायर्स की हर सहूलियत का ध्यान रख रहे हैं। 

इन देशों से आए हैं प्रतिनिधि 
भारत के अलावा आस्ट्रेलिया से एक, कम्बोडिया से एक, कनाडा से तीन, फ्रांस से एक, जर्मनी से तीन, इंडोनेशिया से सात, इजराइल से एक, मलेशिया से चार, म्यांमार से एक, फिलिपिंस से दो, पोलेण्ड से तीन, स्लोवाकिया से एक, साउथ अफ्रीका से तीन, स्पेन से एक, ताइवान से एक, थाइलैंड से पांच, यूनाइटेड किंगडम से छह, यूएसए से एक और वियतनाम से तीन यानी कुल 19 देशों से 47 प्रतिनिधि यूपी ट्रैवेल मार्ट में भाग ले रहे हैं। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top