अपराध

Blog single photo

लोहाघाट में गुलदार की खाल के साथ वन्यजीव तस्कर गिरफ्तार

27/02/2020

राजीव मुरारी
लोहाघाट (चंपावत), 27 फरवरी (हि.स.)। पुलिस, एसओजी और वन विभाग की संयुक्त टीम ने तेंदुए की तीन खालों के साथ विकास खंड बाराकोट के एक पूर्व फौजी को दबोचा है। वह इन खालों को नेपाल के रास्ते चीन भेजने की फिराक में था। उसे न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। 

पुलिस द्वारा वन्य जीव तस्करी की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत मुखबिर की सूचना पर टीम ने बाराकोट क्षेत्र में तलाशी अभियान शुरू किया था। एसओ मनीष खत्री ने बताया कि सूचना के बाद टीम ने बाराकोट के छतरी चौराहे में बुधवार-गुरुवार की रात करीब पौने एक बजे बिना नंबर की सुजुकी स्कूटी सवार राजेंद्र नाथ गोस्वामी निवासी पट्यूडा विकास खंड बाराकोट को रोककर उसकी तलाशी ली। तलाशी के दौरान उसके कब्जे से तेंदुए की तीन खालें बरामद की गईं। रेंजर हेम चंद्र गहतोड़ी ने बताया कि तीन तेंदुओं में से एक की लंबाई छह फीट 10 इंच, उम्र करीब सात वर्ष, दूसरे की लम्बाई साढ़े सात फीट, उम्र करीब नौ वर्ष और तीसरे तेंदुए की लंबाई सात फीट उम्र करीब नौ वर्ष है। रेंजर ने बताया कि तीनों ही खालें करीब एक वर्ष पुरानी हैं। आरोपित से बरामद तीनों खालें और स्कूटी जब्त कर ली गई है।
 
एसओ ने बताया कि आरोपित ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने यह तीनों तेंदुओं को अपनी लाइसेंसी बंदूक से काली कुमाऊं रेज बाराकोट के जंगलों से मारा है। तेंदुए की खालों को वह नेपाल मूल के लोगों को बेचता था, जिससे ये खालें नेपाल में बेची जाती थीं। नेपाली तस्करों के माध्यम से चीन और दूसरे देशों के अंतरराष्ट्रीय बाजार में बेची जाती थीं। आरोपित को पकड़ने वाली एसओजी टीम में एसओजी प्रभारी विरेंद्र रमोला, दीपक प्रसाद, राकेश रौंकली, मतलूब खान, पुलिस टीम में एसआई हेमंत कठैत, एसआई देवेंद्र मेहता, सर्विलांस टीम में धर्मवीर सिंह, सद्दान हुसैन, भुवन पांडेय, वन विभाग की टीम में वन दरोगा उत्तम नाथ गोस्वामी, बीट अधिकारी गिरीश जोशी शामिल थे। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top