व्यापार

Blog single photo

घरेलू स्तर पर रिलायंस-अरामाको के बीच 75 अरब डॉलर का सबसे बड़ा विदेशी निवेश

12/08/2019

गोविन्द चौधरी
नई दिल्‍ली, 12 अगस्त (हि.स.)। देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) और दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी कंपनी साउदी अरामाको के बीच घरेलू स्तर पर सबसे बड़ा सौदा होने वाला है। जिसकी घोषणा आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अम्बानी ने अपनी 42वीं एजीएम में की।

सऊदी अरब की तेल कंपनी साउदी अरामाको ने आरआईएल में 20 प्रतिशत हिस्‍सेदारी के लिए 75 अरब डॉलर लगाने का फैसला किया है। यह अब तक का सबसे बड़ा विदेशी निवेश (एफडीआई) घरेलू स्तर पर होगाा। साउदी अरामाको दुनिया की सबसे ज्‍यादा मुनाफा कमाने वाली कंपनी है।

इस तेल कंपनी ने वित्त वर्ष 2018-19 में 111.1 अरब डॉलर का मुनाफा कमाया है। पूरी दुनिया में कोई ऐसी कंपनी नहीं है जिसने इतना फायदा कमाया हो। साउदी अरामाको ने हाल ही में पहली बार बॉन्‍ड इनवेस्‍टर्स के सामने फायनेंशियल डेटा का खुलासा किया है।

वैश्विक दुनियां में कारपोरेट जगत के बड़े सौदे
1. वोडाफोन एयरटच-मानेसमान सौदा ,172 अरब डॉलर 
2. वेरीजोन कम्युनिकेशन-वेरीजोन वायरलैस, 130.1 अरब डॉलर
3. एओएल- टाइम वार्नर, 112.1 अरब डॉलर
4. फाइजर-वार्नर लामबेर्ट, 111.8 अरब डॉलर
5. अल्ट्रिया ग्रुप- फिलिप मॉरिस इंटरनेशनल, 111.3 अरब डॉलर
6. एटी एंड टी-बेल साउथ, 101.9 अरब डॉलर
7. आरबीएस-एबीएन एमरो होल्डिंग, 95.6 अरब डॉलर
8. एक्सोन-मोबिल डील, 85.6 अरब डॉलर
9. रॉयल डच शेल-बीजी ग्रुप, 81.6 अरब डॉलर

उल्लेखनीय है कि घरेलू स्तर पर अरामाको और रिलायंस का सौदा सबसे बड़ा सौदा है। इससे पहले टाटा मोटर्स ने 2008 में ब्रिटिश कंपनी जैगुआर लैंड रोवर को 2.3 अरब डॉलर में खरीदा था, जो भारत में  सबसे बड़ा अधिग्रहण था। 

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top