अपराध

Blog single photo

मां के बर्ताव से परेशान होकर बदमाशों को दे दी सुपारी, गिरफ्तार

10/10/2019

अश्वनी शर्मा
नई दिल्ली, 10 अक्टूबर (हि.स.)। बाहरी जिले के पश्चिम विहार इलाके में एक युवक ने अपनी ही मां की हत्या और घर में डकैती की सुपारी तीन बदमाशों को दे दी। इनमें एक बदमाश मंगोलपुरी थाने का (बीसी) घोषित बदमाश है। हत्या व डकैती की डील 50 हजार रुपये में तय हुई। हालांकि महिला की किस्मत अच्छी रही और वह बदमाशों से बच निकली। इसके बाद मामला पुलिस तक जा पहुंचा। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए उक्त मामले आरोपित बेटे समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि एक नाबालिग को भी हिरासत में लिया गया है। 
बाहरी जिले के डीसीपी ए. कॉन के अनुसार गिरफ्तार आरोपितों की पहचान नांगलोई निवासी राजेंद्र सिंह मंगल, मंगोलपुरी निवासी राहुल उर्फ मक्खी और महिला का बेटा पश्चिम विहार निवासी अंश ढींगरा के रूप में हुई हैं। आरोपितों के पास से वारदात के लिए इस्तेमाल एक चापड़, दो मोबाइल, दो मारुति कार बरामद किया हैं। 
डीसीपी के अनुसार, घटना छह अक्टूबर पश्चिम विहार के जीएच ब्लॉक की है। आरोपित बेटा अंशु ढींगरा अपनी मां के बर्ताव से परेशान था। यह बात उसने अपने पिता को भी बताई लेकिन अनसुना कर दिया। इसके बाद अंशु ने अपने मैकेनिक दोस्त के जरिए मंगोलपुरी के घोषित बदमाश राहुल उर्फ मक्खी से मुलाकात की और मां की हत्या के लिए 50 हजार रुपये में सुपारी दे दी। इसके अलावा घर में जो भी कैश और जूलरी मिलेगी, वह भी बदमाश ले जाएगा। बात यह तय हो गई। छह अक्टूबर को जब मां घर में अकेली थी, तब बेटे ने बदमाश को फोन कर सूचना दे दी। 
राहुल, मंगल और एक नाबालिग साथी के साथ अंशु के घर पहुंच गया। जैसे ही तीनों ने महिला की हत्या के लिए हमला करने की कोशिश की लेकिन महिला ने हिम्मत दिखाते हुए मुकाबला किया और शोर मचा दिया। आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। दो आरोपित तो फरार हो गए लेकिन नाबालिग पकड़ा गया। पुलिस ने नाबालिग को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इसके बाद राहुल, मंगल और अंशु को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपित राहुल की निशानदेही पर चोरी की गाड़ियां भी बरामद कीं हैं। आरोपित पर पहले से दर्जनों मामले हैं। यह मंगोलपुरी थाने का घोषित बीसी है।
हिन्दुस्थान समाचार


 
Top