क्षेत्रीय

Blog single photo

उप्र: कोरोना के 49,347 सक्रिय मामले, 24 घंटे में मिले 4,583 नए मरीज

12/08/2020

-अब तक 2,230 लोगों की संक्रमण से हो चुकी है मौत

संजय सिंह
लखनऊ, 12 अगस्त (हि.स.)। प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब 75 जनपदों में 49,347 हो गई है। अब तक 84,661 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। बीते चौबीस घंटे में संक्रमण के 4,583 नए मामले सामने आए हैं। वहीं अब तक 2,230 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो चुकी है।

मंगलवार को 97,911 कोरोना नमूनों की हुई जांच
प्रदेश के अपर मुख्य सचिव-चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बुधवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में मंगलवार को कुल 97,911 कोरोना नमूनों की जांच की गई। राज्य में अभी भी प्रतिदिन सबसे ज्यादा टेस्ट किए जा रहे हैं। इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल जांच का आंकड़ा 34 लाख पार कर गया है और 34,12,346 कोरोना नमूनों की जांच हो चुकी है।

3,247 पूल के जरिए 17,055 नमूनों की हुई जांच
उन्होंने बताया कि मंगलवार को 3,247 पूल के जरिए 17,055 नमूनों की जांच की गई। इनमें 3,083 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिसमें 522 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं 164 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिसमें 23 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

संक्रमण बढ़ने के बावजूद अगस्त में पॉजिटिविटी 4.8 प्रतिशत
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि 01 अगस्त से 11 अगस्त के बीच जो टेस्ट किए गए हैं उसमें पॉजिटिविटी का प्रतिशत 4.8 प्रतिशत है। इस महीने भी हमारी पॉजिटिविटी 05 प्रतिशत से कम बनी हुई है। संक्रमण की संख्या ज्यादा होने के बाद भी हम ऐसा करने में सफल रहे हैं। भारत सरकार की ओर से पॉजिटिविटी 05 प्रतिशत से कम करने की कोशिश की बात कही जाती है। प्रदेश में सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी जिन पांच जनपदों में देखी गई उसमें कानपुर नगर, गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज और लखनऊ शामिल हैं। सबसे कम पॉजिटिविटी वाले पांच जनपद हाथरस, बागपत, महोबा, कासगंज, बुलंदशहर हैं। 
 
8.51 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें
स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 53,913 इलाकों में 2,40,833 टीमों ने 1,69,12,280 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 8,51,85,977 लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

21,758 लोग होम आइसोलेशन में करा रहे इलाज
उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में 21,758 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। अब तक 39,678 लोग होम आइसोलेशन में अपरा इलाज करा चुके हैं। इनमें 17,920 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर उन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है। वहीं 1,523 लोग निजी अस्पतालों, 196 मरीज एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी और शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत विभिन्न सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं।

प्रदेश में 61,831 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित
प्रदेश में कुल 61,831 'कोविड हेल्प डेस्क' की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 6,43,991 से ज्यादा लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की गई है। 

आरोग्य सेतु एप को लेकर 8.42 लाख लोगों को किया जा चुका है फोन
प्रदेश में 'आरोग्य सेतु' एप डाउनलोड करने वालों के जो अलर्ट मिल रहे हैं, उन्हें कन्ट्रोल रूम और मुख्यमंत्री हेल्पलाइन-1076 के जरिए फोन किया जा रहा है। अभी तक 8,42,800 लोगों को फोन कर सतर्कता बरतने की सलाह दी गई है।

ई-संजीवनी पोर्टल से अब तक 24,663 लोगों ने उठाया लाभ
इसके साथ ही ई-संजीवनी पोर्टल का प्रदेश के लोग लगातार इस्तमाल कर रहे हैं, इस पोर्टल से घर बैठे डॉक्टरों से सलाह ले सकते हैं। मंगलवार को 1,523 लोगों ने इस सुविधा का लाभ उठाया। वहीं अब तक प्रदेश के 24,663 लोगों को इससे लाभ मिला है। अभी भी बहराइच जनपद के लोग इसका इस्तेमाल करने में सबसे आगे हैं। इसके अलावा हरदोई और मेरठ के लोग भी इसका ज्यादा प्रयोग कर रहे हैं।

हिन्दुस्थान समाचार


 
Top