विकास पाण्डेय
रांची, 04 मार्च (हि.स.)। पश्चिमी सिंहभूम (चाईबासा) जिले के टोकलो थाना क्षेत्र अंतर्गत होयाहातु गांव स्थित लांजी जंगली क्षेत्र में गुरुवार सुबह नक्सलियों के लैंड माइंस (प्रेशर आईईडी ) ब्लास्ट में झारखंड जगुआर के तीन जवान शहीद हो गए, जबकि दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए।

पुलिस ने बताया कि आईईडी ब्लास्ट में पलामू जिले के कॉन्स्टेबल हार्डवर साह, सिमडेगा जिले के कॉन्स्टेबल किरण सुरीन और गोड्डा जिले के हेड कॉन्स्टेबल देवेंद्र कुमार पंडित शहीद हो गए। ब्लास्ट में खूंटी जिले के कॉन्स्टेबल दीप टोपनो और लातेहार जिले के निक्कू उरांव गम्भीर रूप से घायल हो गए। घायल जवानों को हेलीकॉप्टर से रांची लाया गया। घायल जवानों को खेल गांव स्थित हेलीपैड से एंबुलेंस से मेडिका अस्पताल ले जाया गया।

बताया गया है कि ब्लास्ट के वक्त ही दो जवान शहीद हो गए, जबकि हेड कॉन्स्टेबल देवेंद्र कुमार पंडित ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। ब्लास्ट में शहीद और घायल जवान झारखंड जगुआर के हैं। नक्सलियों ने यह विस्फोट तब किया जब जिला पुलिस और सीआरपीएफ के जवान नक्सलियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन चला रहे थे। इस दौरान सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ भी हुई। सुरक्षा बलों को भारी पड़ता देख नक्सली जंगल की ओर भाग निकले।

बताया गया है कि महाराजा प्रमाणिक की दस्ते से मुठभेड़ जारी है। राज्य के डीजीपी नीरज सिन्हा ने घटना की पुष्टि की है। घटना के बाद कोल्हान डीआईजी राजीव रंजन सिंह और चाईबासा एसपी अजय लिंडा घटनास्थल पर पहुंचकर कैंप किए हुए हैं। पूरे इलाके में सर्च अभियान जारी है। 

हिन्दुस्थान समाचार
You Can Share It :