क्षेत्रीय

Blog single photo

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमितों की संख्या 12 हजार के पार, 96 मौतें

10/08/2020

केशव शर्मा
रायपुर, 10 अगस्त (हि.स.)। राजधानी रायपुर प्रदेश का नया हॉटस्पॉट बन गया है। यहां पर बीते 24 घंटों में राज्यपाल के एडीसी, दो आईएस समेत 109 मरीज कोरोना संक्रमित मिले हैं। रविवार देर रात तक प्रदेश में कुल 293 नए संक्रमित मिले हैं। अब प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 12,148 हो गई है, जिसमें से 8809 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं और 3243 मरीज सक्रिय हैं। कोरोना से प्रदेश में अब तक 96 मौतें हो चुकी हैं।
स्वास्थ्य विभाग द्वारा रविवार देर रात तक जारी आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में रायपुर से 109, दुर्ग से 37, बिलासपुर से 30 ,कांकेर से 24, बलौदा बाजार से 18, बलरामपुर से 11, रायगढ़ एवं बसपा से 9-9, सरगुजा से 7, राजनांदगांव एवं कोरबा से 6-6 ,कोंडागांव से 5, जांजगीर, मुंगेली और सुकमा जिले से 3-3, बालोद ,गरियाबंद ,कोरिया, जशपुर और बीजापुर से दो-दो तथा बेमेतरा और दंतेवाड़ा जिले से एक-एक  नए मरीज मिले हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार राजभवन में फिर से चार कर्मी संक्रमित मिले हैं। इसमें राज्यपाल के एडीसी अनंत श्रीवास्तव शामिल है। साथ ही 3 सुरक्षाकर्मी भी संक्रमित पाए गए हैं। पिछले दिनों एडीसी राज्यपाल के साथ थे। कोरबा जिले के जिला पंचायत सीईओ कुंदन कुमार अधिकारी तथा रायपुर में कृषि विभाग के निदेशक आईएस नीलेश क्षीर सागर भी पॉजिटिव पाए गए हैं। साथ ही रायपुर अपर कलेक्टर पद्मिनी भोई भी देर रात कोरोना पॉजिटिव पाई गई।
रविवार देर रात स्वास्थ्य विभाग ने 6 लोगों की मौतों की पुष्टि की है। जिनमें जेएसपीएल रायगढ़ निवासी 42 वर्षीय पुरुष, कोरिया जिला चिरमिरी निवासी 40 वर्षीय महिला, रायपुर निवासी 43 वर्ष की महिला, बिलासपुर निवासी 60 वर्षीय महिला, दुर्ग निवासी 68 वर्षीय पुरुष एवं जांजगीर की 70 वर्षीय महिला शामिल है। रायपुर में संक्रमित मरीजों की संख्या 4028 तक पहुंच गई है।
पिछले 9 दिनों में प्रदेश में 3 हजार नए कोरोना संक्रमित मिले हैं और 41 लोगों की जान गई है। लॉकडाउन के 17 दिनों में 5 हजार नए मरीज मिले हैं। रायपुर में संक्रमित मरीजों का अंतिम संस्कार शहर से दूर स्थित मुक्तिधाम में करने के निर्देश दिए गए हैं। उधर मुख्यमंत्री ने जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए कहां है कि होम आइसोलेशन में रखे गए संक्रमित मरीजों और उनके परिजनों पर नजर रखने की जिम्मेदारी पड़ोसियों की है। मुख्यमंत्री का कोरोना केस नेगेटिव आया है।
स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉक्टर सुभाष पांडे का कहना है कि हमारी पहली प्राथमिकता है सही समय पर इलाज मुहैया कराना है। ऐसा कर मृत्यु दर में कमी लाई जा सकती है।

हिन्दुस्थान समाचार/केशव
Submitted By: Keshav Kedar Nath Sharma Edited By: Akash Kumar Rai Published By: Akash Kumar Rai at Aug 10 2020 9:25AM


 
Top