ओम प्रकाश

कोलकाता, 06 मार्च (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस में टिकट बंटवारे के बाद घमासान मचा हुआ है। अब सीएम ममता बनर्जी के बेहद करीबी माने जाने वाले राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम के दामाद यासीन हैदर ने भी पार्टी छोड़ दी है। 

दरअसल शुक्रवार को ही ममता बनर्जी ने राज्य की सभी 291 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की है, जिसके बाद पार्टी लगातार बगावत हो रही है। 50 से अधिक ऐसे लोग, जिन्हें टिकट नहीं दिया गया है, वे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल राय से मिलकर भाजपा का दामन थामने की इच्छा जता चुके हैं। फिरहाद हकीम के परिवार में इस तरह से बगावत राजनीतिक जगत को चकित करने वाला है। उन्होंने सोशल साइट पर पोस्ट लिखकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सवाल भी खड़ा किया है। उन्होंने लिखा है कि बड़ों को प्रणाम और छोटों को प्यार। आज मैं बताना चाहता हूं कि मैं अब किसी भी तरह से तृणमूल कांग्रेस से जुड़ा हुआ नहीं हूं। कई सालों से पार्टी से जुड़ा रहा हूं, बहुत कुछ सीखा हूं। पोस्ट के अंत में उन्होंने लिखा है कि मैं गर्वित समाज सेवक हूं और समाज सेवा करता रहूंगा। 

उल्लेखनीय है कि ममता बनर्जी ने उम्मीदवारों की सूची में अधिकतर अभिनेताओं और अभिनेत्रियों को शामिल किया है, जिसे लेकर पार्टी के अंदर सवाल खड़े हुए हैं । इसे लेकर भी फिरहाद के दामाद ने लिखा है कि कई साल पहले एक बुद्धिमान व्यक्ति ने कहा था कि जो मशहूर है उसे जल्दी टिकट मिल जाता है। मैंने उनकी बातों को अहमियत नहीं दी थी लेकिन आज यह सच है। जो साल में 365 दिन चौबीसों घंटे पार्टी के लिए काम करते हैं, उन्हें अंत में उपेक्षा का शिकार होना पड़ता है।हिन्दुस्थान समाचार
You Can Share It :