व्यापार

Blog single photo

इंडिगो और एयर इंडिया कर्मचारियों के वेतन में कटौती, विदेशी विमानों के प्रवेश पर बैन

19/03/2020

प्रजेश/सुनीत 

नई दिल्‍ली, 19 मार्च (हि.स.)। देश की निजी की बड़ी एयरलाइंस कंपनी इंडिगो ने अपने कर्मचारियों के वेतन में 25 फीसदी तक की कटौती करने की घोषणा की है। वहीं, सार्वजनिक क्षेत्र की सबसे बड़ी विमानन कंपनी इंडियन एयरलाइंस भी अपने कर्मचारियों के वेतन में 5 फीसदी तक की कटौती कर सकता है। इस बीच सरकार ने गुरुवार को देश और विश्‍व के अन्‍य देशों में कोरोना के मामलों की बढ़ती संख्या पर लगाम कसने के लिए एक हफ्ते का प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है। 

केंद्र सरकार ने इस रविवार से अगले एक सप्ताह तक तमाम अंतरराष्ट्रीय विमानों के भारत में प्रवेश को प्रतिबंधित लगाने का फैसला किया है। सरकार की तरफ से  जारी बयान में कहा गया है कि 22 मार्च, 2020 से लेकर अगले एक हफ्ते तक किसी भी शेड्यूल इंटरनेशनल कर्मिशियल फ्लाइट को भारत में प्रवेश करने की इजाजत नहीं होगी।

इंडिगो एयरलाइंस के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) रोनोजॉय दत्ता ने सभी कर्मचारियों के वेतन में कटौती की घोषणा की है। इसके साथ ही दत्‍ता खुद भी 25 फीसदी कम वेतन लेंगे। दत्ता ने कहा कि कोराना वायरस महामारी  के कारण कंपनी की आमदनी में बहुत कमी आई है, इससे एयरलाइन संकट में  है। इसके अलावा एयर इंडिया के कर्मचारियों की सैलरी में 5 फीसद की कटौती  हो सकती है। कोरोन वायरस से बढ़ते वित्तीय संकट के बीच एयरलाइन ने ऐसा कदम उठाने का फैसला किया है। इसके अलावा एयर इंडिया ने भी लगभग सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा दी है। 

उल्‍लेखनीय है कि इसके अलावा निजी विमानन कंपनी गोएयर, स्पाइसजेट और विस्तारा ने भी कोरोना वायरस की वजह से अपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित कर दी हैं। उड़ानों की संख्या में कमी के चलते कंपनी क्रमिक आधार पर अपने कर्मचारियों को बिना वेतन के छुट्टी पर भेजेगी। 

हिन्‍दुस्‍थान समाचार


 
Top