अपराध

Blog single photo

न्यायाधीश से ऑनलाइन ठगी करने वाला आरोपित गिरफ्तार.

11/06/2019

अश्वनी
नई दिल्ली, 11 जून (हि.स.)। भारत के रिटायर्ड मुख्य न्यायाधीश से ऑनलाइन ठगी की वारदात को अंजाम देने वाले एक शातिर को आखिरकार मालवीय नगर पुलिस ने राजस्थान के उदयपुर से ढूढ़ निकाला और गिरफ्तार कर उसे सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। आरोपित की पहचान दिनेश माली के रूप में हुई है। आरोपित मूलरूप से राजस्थान के उदयपुर के मालीवाड़ा का रहने वाला है। उसके पास से पुलिस ने वह एटीएम भी बरामद कर लिया है, जिसकी मदद से आरोपित ने रुपये की निकासी की थी। 
आरोपित की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए दक्षिणी जिले के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त परविन्दर सिंह ने बताया कि फिलहाल आरोपित को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर ठगी के रुपये बरामद करने का प्रयास कर रही है। साथ ही उसके अन्य सहयोगियों के बारे में भी पता लगा रही है। 
दोस्त के मेल से संदेश भेज ठगे थे एक लाख 
भारत के रिटायर्ड मुख्य न्यायाधीश जस्टिस लोधा ने मालवीय नगर पुलिस के पास ऑनलाइन ठगी किए जाने के संदर्भ में शिकायत दी थी। जिसमें उन्होंने बताया था कि उनके दोस्त और रिटायर्ड न्यायाधीश के मेल को हैक कर उनके मेल से माध्यम से जालसाज ने संदेश भेजकर एक लाख रुपये की जरूरत बताई थी और बैंक खाता नंबर भेजकर रुपये ऑनलाइन ट्रांस्फर करने को कहा था। दोस्त के ईमेल से संदेश आने पर जस्टिस लोधा तत्काल आरटीजीएस के माध्यम से दिए गए बैंक खाते में एक लाख रुपये ट्रांस्फर कर दिए लेकिन कुछ दिन बाद उन्हें उनके रिटायर्ड जस्टिस दोस्त ने मेल भेजकर ईमेल हैक होने की बात कही, जिसके बाद उन्हें ठगी का अहसास हुआ। उन्हें उक्त मामले में मालवीय नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। 
एटीएम के सीसीटीवी से आरोपित की हुई पहचान 
उक्त मामले में शिकायत के आधार पर मालवीय नगर पुलिस ने एसीपी रजनीश की निगरानी और एसएचओ विरेन्द्र दलाल के नेतृत्व में टीम बनाकर जांच शुरू की। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि जिस बैंक में रुपये ट्रांसफर किए गए थे और जिस एटीएम से रुपये निकाले गए थे, वो राजस्थान के उदयपुर में है। पुलिस की एक टीम उदयपुर पहुंची। उस एटीएम को चिन्हित किया गया, जिससे आरोपित ने रुपये निकाले थे। वहां के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर छानबीन करते हुए पुलिस ने एक आरोपित दिनेश माली को गिरफ्तार कर लिया। उसके कब्जे से पुलिस ने रुपये की निकासी में इस्तेमाल किया गया एटीएम भी बरामद कर लिया है। फिलहाल उससे पूछताछ करते हुए उसके साथियों का पता लगाया जा रहा है। साथ ही ठगे गए रुपये को बरामद करने की कोशिश की जा रही है। 
हिन्दुस्थान समाचार


News24 office

News24 office

Top